बिग ब्रेकिंग : क्या सचिन पायलट के 10 विधायकों को खरीदने की कोशिश हुई थी! सामने आया डायरी का पन्ना..सीएम अशोक गेहलोत ने क्या सोनिया गांधी के समक्ष इसके सबूत पेश किए..जानिए पूरी कहानी

बिग ब्रेकिंग : क्या सचिन पायलट के 10 विधायकों को खरीदने की कोशिश हुई थी! सामने आया डायरी का पन्ना..सीएम अशोक गेहलोत ने क्या सोनिया गांधी के समक्ष इसके सबूत पेश किए..जानिए पूरी कहानी

बिगुल

रायपुर. राजस्थान में चल रहा राजनीतिक गतिरोध हर वक्त नए मोड़ ले रहा है. राजनीतिक हलकों में अब नई खबर यह आई है कि क्या सचिन पायलट के 10 विधायकों को खरीदने की कोशिश हुई थी! इसके सबूत के आधार पर डायरी का एक पन्ना पेश किया जा रहा है हालांकि यह सही है या गलत, इसकी पुष्टि नही हुई है लेकिन सोशल मीडिया में यह वायरल हुआ है. इसमें जो लिखा है उसके मुताबिक ‘10 करोड रूपए बीजेपी‘ लिखा हुआ है. 

इस कागजात के माध्यम से दावा किया गया है कि क्या एसपी (सचिन पायलट) के साथ 18 विधायक हैं और वो पार्टी छोड़ देंगे। सबूत के मुताबिक पहले भाजपा के साथ मिलकर हर विधायक को 10 करोड़ ऑफर किया गया था लेकिन बात नही बनी. हालांकि इसके कोई सबूत नही मिल सके हैं, सिर्फ डायरी के पन्ने में यह बात लिखी हुई है.

अपुष्ट खबर के मुताबिक राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जब कल सोनिया गांधी से मिलने गए तो उनके हाथ में डायरी का यह पन्ना भी था. संभवतः उन्होंने सोनिया गांधी को सारे मामले से अवगत कराया है. सोनिया गांधी से मिलने गए गहलोत के हाथ में इस पन्ने की ये तस्वीर मनोरमा डेली में छपी है। 

हालांकि इससे सचिन पायलट विरोधियों का मकसद पूरा नही होने वाला है क्योंकि कांग्रेस आलाकमान सब कुछ समझ चुका है कि रायता क्यों और किसने फैलाया है. गहलोत को माफी तक मांगनी पड़़ी है. अशोक गहलोत ने सोनिया गांधी से भी मुलाकात की और राजस्थान में गहराए सियासी संकट के माफी मांगी थी। इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस प्रमुख चुनाव नहीं लड़ने की भी घोषणा की थी।

उनके कट्टर विरोधी सचिन पायलट भी देर शाम कांग्रेस अध्यक्ष के आवास पहुंचे और उनसे चर्चा की। पायलट ने कहा कि यह सुनिश्चित करना उनकी प्राथमिकता रही है कि कांग्रेस 2023 का चुनाव भी जीते। इस बीच एआईसीसी महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष एक या दो दिन में फैसला करेंगे कि राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन होगा।