ब्रेकिंग : आइएफएस अफसर 10 माह से है गायब..वन विभाग नोटिस देने की तैयारी में..सब्सिडी वितरण में गड़बड़ी के आरोपों का सामना कर रहा है अफसर

ब्रेकिंग : आइएफएस अफसर 10 माह से है गायब..वन विभाग नोटिस देने की तैयारी में..सब्सिडी वितरण में गड़बड़ी के आरोपों का सामना कर रहा है अफसर

अशोक गौतम
भोपाल. मध्य प्रदेश कैडर के 1996 बैच के आइएफएस अधिकारी पिछले दस माह से गायब हैं। विभाग उन्हें ज्वाइन करने, चार्जशीट देने के लिए उनके स्थाई, अस्थाई पते पर लगातार नोटिस भेज रहा है, लेकिन वह बैरंग वापस लौट रही है। उनके ई-मेल पर भी नोटिस रिसीव नहीं हो रही है, ई-मेल एड्रस भी नाट फाउंड बताता है।

कालीदुरई पर उद्यानिकी विभाग में गोदाम सब्सिडी वितरण और पॉलीहाउस, स्पिंगलर सहित अन्य सामानों में सब्सिडी वितरण में गड़बड़ी करने का भी आरोप है। इस मामले की चार्जशीट देने के संबंध में विभाग पिछले पांच माह प्रयास कर रहा है, लेकिन वो न तो फोन उठा रहे हैं और न ही चार्जशीट रिसीव कर रहे हैं।

दरअसल एम कालीदुरई दो-तीन साल पहले उद्यानिकी में कमिश्नर थे। वहां उन्होंने कंपनियों को कोल्ड स्टोरेज बनाने से पहले ही करोड़ों रूपए सब्सिडी बांटी थी। इसके अलावा पाली हाउस सहित अन्य मामालों में सब्सिडी वितरण को लेकर शिकायतें हुई थी, जांच में मामला सही पाया गया। उद्यानिकी विभाग ने इस मामले की जानकारी विभाग को दी, जिसके आधार पर उन्हें चार्जशीट जारी किया गया। इसकी सूचना उन्हें उनके घर के पते और ई-मेल पर भी दी गई, लेकिन यह बताया गया है कि वे विभाग को दिए गए पते पर नहीं रहते हैं। वे अफसरों के फोन भी रिसीव नहीं कर रहे हैं।

एम कालीदुरई नवम्बर 2020 से ऑफिस नहीं आ रहे हैं। सर्विस बुक में दिए गए पते पर चार्जशीट भेजी गई थी, लेकिन वह वापस आ गई है। ईमेल से भी उन्हें नोटिस सेंड की गई, ईमेल एड्रेस नाट वैलिड था, अब इश्तिहार जारी करने पर विचार किया जा रहा है।
राकेश कुमार यादव, एपीसीसीएफ, (प्रशासन-एक) वन विभाग

मॉ का इलाज करा रहा हूं अगले माह आउंगा
एपीसीसीएफ एम कालीदुरई का कहना है कि वो कोयंबटूर में हूं। मॉ को कैंसर हो गया है, इलाज करा रहा हूं। अपने घर का रेनोवेशर भी करा रहा हूं। हर माह अवकाश के संबंध में पत्र भेज रहा हूं। मेरे ई-मेल पर कोई नोटिस नहीं मिल रहा है। अगले माह तक आउंगा। फरवरी से लगातार ईएल ले रहा हूं।

पहले भी एक आइएफएस अधिकारी का जारी हो चुका है इश्तिहार
वन विभाग द्वारा इसके पहले 1994 बैच के आइएफएस अधिकारी बीएस होतगी के संबंध में भी इश्तिहार जारी किया गया था। होतगी बैतूल रेंज में पदस्थगी के दौरान विभाग को सूचना दिए बिना लंबे समय से गायब थे। इस्तिहार जारी करने के बाद वो विभाग में आमदगी दी थी।