ब्रेकिंग : IAS पूजा सिंघल और सीए सुमन सिंह की रिमांड अवधि 5 जुलाई तक के लिए बढ़ी..45 करोड़ का मनरेगा घोटाला के कारण हैं जेल में

ब्रेकिंग : IAS पूजा सिंघल और सीए सुमन सिंह की रिमांड अवधि 5 जुलाई तक के लिए बढ़ी..45 करोड़ का मनरेगा घोटाला के कारण हैं जेल में

बिगुल
आईएएस पूजा सिंघल और सीए सुमन सिंह की न्यायिक हिरासत को एक बार फिर बढ़ा दी गयी है. ईडी की विशेष अदलात में दोनों की वर्चुअल पेशी की गयी. पेशी के बाद विशेष अदालत ने दोनों की रिमांड अवधि 5 जुलाई तक बढ़ा दी है.


बताते चलें कि इसके पहले पूजा सिंघल से 14 दिनों तक ईडी ने पूछताछ की थी. वहीं सुमन सिंह से 13 दिनों तक पूछताछ की गयी थी. बीते छह मई से ईडी की कार्रवाई जारी है.

ऐसा है मनरेगा घोटाले से ईडी के शिकंजे तक का सफर
- वर्ष 2008-09 और 2009-10 में खूंटी में मनरेगा घोटाला हुआ था
- पूजा सिंघल 16 फरवरी 2009 से 19 जुलाई 2010 तक खूंटी की डीसी थीं
- पूजा सिंघल ने इंजीनियर को मनरेगा के लिए 18.06 करोड़ अग्रिम दिये थे
- बिना काम किये पैसों की निकासी के बाद वर्ष 2011 में खूंटी और अड़की थाने में इंजीनियर राम विनोद सिन्हा और आरके जैन के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था
- जुलाई 2011 में संबंधित मामला निगरानी में दर्ज हुआ था
- 18 मई 2012 को ईडी ने मनरेगा घोटाले में प्राथमिकी दर्ज की थी
- 28 नवंबर 2018 को इंजीनियर ने मनरेगा में 20 फीसदी कमीशन देने की बात स्वीकारी
- 06 मई 2022 को ईडी ने पूजा सिंघल सहित अन्य लोगों के ठिकानों पर छापा मारा
- 07 मई 2022 को सीए सुमन कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया
- 08 मई 2022 को ईडी ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा से पूछताछ की
- 10 मई 2022 को पूजा सिंघल से ईडी ने पूछताछ की
- 11 मई 2022 को पूजा सिंघल को गिरफ्तार कर लिया गया
-12 मई 2022 को पूजा सिंघल को सस्पेंड कर दिया गया
-20 मई 2022 को पूजा सिंघल की रिमांड 5 दिनों के लिए और बढ़ा दी गयी
-20 मई 2022 को सीए सुमन कुमार सिंह को होटवार जेल भेज दिया गया

ईडी ने मनरेगा घोटाले और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 6 मई को झारखंड में पूजा सिंघल के 20 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की थी. जिसमें 19.31 करोड़ रुपये की बरामदगी हुई. इस मामले में पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा के सीए सुमन कुमार को रिमांड पर लिया गया. जिसमें उन्होंने कुछ भी बताने से शुरूआत में इनकार कर दिया. बाद में इस मामले में आरोपी पूजा सिंघल को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया लेकिन वो इन पैसों के बारे में सही जानकारी देने में असमर्थ रही. जिसके बाद उन्हें भी रिमांड पर लिया गया. बता दें इस मामले में झारखंड की हेमंत सरकार ने पूजा सिंघल को निलंबित कर दिया है.